Saturday, 19 December 2015

पोर्न बैन...हैं सच क्या..?(6-August-2015)

(I wrote this and later found that it was only Child Pornography which was banned)

अब क्या तो कह डालूं.. पता तो नहीं चला क्यों पर उड़ती उड़ती हमने भी सुनी की पोर्न बैन..कसम से आत्मिक शांति की अनुभूति हुई.|
उसके बाद से कुछ ठरकपुजारी बुद्धिजीवों का आकलन भी पड़ा की पोर्न बैन करना कितना बड़ा महापाप है मानो अब वो लोग संतान प्राप्ति का सौभाग्य नहीं प्राप्त कर पाएंगे। जीवन के पूर्वार्ध से ही मैं समझ नहीं पाया कभी की आखिर सरकारें इतनी कलुषित चीज़ को काहे को बैन नहीं करती . न जाने कौनसा प्रभाव पड़ता है देश के सकल घरेलू उत्पाद(GDP) पे । चलो देर आयद दुरुस्त आयद ।
महिला को "प्रयोग" करना हमें इसी देवी माँ ने सिखाया । हर दूसरे घर की माँ , बहन का चित्र पॉर्न साइट्स के साम्राज्य पर उपलब्ध है..नयी नयी धमकियों का जन्म हुआ की "या तो मेरे साथ सोने को तैयार हो या अगले दिन तुम नयी पोर्न स्टार ". नए नए फोरम बने इस सोच वाले लोगों के की महिलाओं की भीड़ किस जगह ज्यादा मिलती है ताकि वो लोग जाकर कुछ गुप्तांगों के स्पर्श(groping) का आनंद ले सकें .ये जो पोर्न बैन को अपनी माँ के स्वर्गवास सा मान रहें हैं ये उसी नामर्द पुरुषों का समूह है जो जीवन भर किसी महिला के प्रेम से वंचित रहती हैं और फिर पॉर्न के कारण कुपोषित और अपराधिक प्रवत्ति की ओर अग्रसर हो संसार में बवासीर बन जाते हैं.
इस सभी मित्रो से निवेदन है की अगर आप सच में पोर्न बैन से इतने आहत है तो शुरूरात खुद से करें.. अपनी माताजी या बहन जी , पत्नी या पुत्री का एक सुन्दर सा पोर्न mms बनाके अपनी जैसी सोच वालों को भेजें और फिर दूसरी साइड वाला आपको वैसा ही mms बना के भेजेगा.. अब हम लोग तो पोर्न बैन के उपलक्ष्य में घी के दिए जला रहें हैं अब आप पोर्न की मय्यत पे कुछ तो protest करेंगे ही.. क्यों इंतज़ार करते हैं की कोई और बेटी आपकी आँखों के लिए कपडे खोलेगी .. आप अपने घर से शुरुआत करें ।
अंत में हार्दिक बधाई सरकार को इस परमावश्यक कदम को उठाने के लिए..। तहेदिल से धन्यवाद smile emoticon
Post a Comment